RPSC Junior Accountant Expected Cut off Marks 2016

RPSC Junior Accountant Expected Cut off Marks 2016 with details

The Rajasthan Public Service Commission is successfully conducted Jr. Accountant Exam 2016 on 4th October.

RPSC Junior Accountant Expected Cut off Marks 4th October 2016

Paper-1st GK

RPSC Jr. Accountant Cut off for General Category – 56% to 78%

RPSC Jr. Accountant & TRA Cut off Marks 2016

RPSC Jr. Accountant Cut off for OBC Category – 53% to 71%

RPSC Jr. Accountant Cut off for SC / ST Category – 40% to 57%

RPSC Jr. Accountant Cut off for others – 32% to 48%

Paper-2nd Expected Cut off Marks

RPSC Jr. Accountant Cut off for General Category – 40% to 68%

RPSC Jr. Accountant Cut off for OBC Category – 39% to 65%

RPSC Jr. Accountant Cut off for SC / ST Category – 26% to 43%

RPSC Jr. Accountant Cut off for others – 23% to 38%

 

share onShare on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0
Daily Update for GK bank SSC SBI RRB IBPS po clerk and SO SSC CGL
online gk shriram

13 Responses to RPSC Junior Accountant Expected Cut off Marks 2016

  1. arvind says:

    Sir Jr.acc. me mere47.74% ban rahe hai kya chances hai. Me apka Purana student hu.obc categary

  2. inder says:

    hello sir mere 55% he obc jr. acc. me kya chance he

  3. Shivani sharma says:

    Sir general girls 385 marks koi chance Hai kya sir

  4. Ac Kumawat says:

    I have got 63% in rpsc jr. Accountant exam obc catg. any chance for selection…Plz reply sir….

  5. PRADEEP says:

    LDC RPSC ME MERIT & CUT OFF KITNI JAYAGI

  6. Vikas panda says:

    I get 53 in genral cat. what should be chance.

  7. anil says:

    yadi general ki seat se SC /CT ki seat bhre or unki Seat Khali ja rahi ho to ………..100% Writ leg sakti hai ….jese Haryana or UP me legi thi or Government ne bhi is ko sahi karar deker result change kerwaya tha…

    HORIZENTAL RESERVATION

    यूपी की दरोगा भर्ती में क्षैतिज आरक्षण वालों को बाहर करने का निर्देश
    इलाहाबाद, विधि संवाददाता First Published:29-07-2016 09:53:43 PMLast Updated:29-07-2016 09:53:43 PM यूपी पुलिस की 4010 दरोगा भर्ती में सामान्य की सीटों पर चयनित महिला और विशेष वर्ग के अभ्यर्थी बाहर होंगे। हाईकोर्ट ने इन अभ्यर्थियों को सामान्य से हटाकर उनके संवर्ग में समायोजित करने का निर्देश दिया है। साथ ही प्रदेश सरकार और अन्य अभ्यर्थियों की विशेष अपील को खारिज कर दिया है।

    न्यायमूर्ति वीके शुक्ला और न्यायमूर्ति यूसी श्रीवास्तव की खंडपीठ ने यह आदेश दिया है। इससे पूर्व एकल न्यायपीठ ने सामान्य की सीटों पर क्षैतिज आरक्षण के तहत महिला और एक्स सर्विसमैन को नियुक्ति देने को गलत करार दिया था। इसके खिलाफ विशेष अपील दाखिल की गई थी जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया। इस मामले में अधिवक्ता सीमांत सिंह, अनूप त्रिवेदी, जीके सिंह आदि ने बहस की।

    दरोगा भर्ती का परिणाम 16 मार्च 2016 को जारी किया गया था। कुछ अभ्यार्थियों ने व्हाइटनर का प्रयोग किया था, इसलिए यह मामला कोर्ट पहुंच गया। हाईकोर्ट के निर्देश पर व्हाइटनर लगाने 410 अभ्यर्थियों को बाहर कर नए सिरे से परिणाम जारी किया गया। इसके बाद मामला फिर कोर्ट पहुंचा और कोर्ट में बताया गया कि क्षैतिज आरक्षण के तहत 173 पिछड़ा वर्ग और 10 अनुसूचित जाति की महिला अभ्यर्थियों को सामान्य की सीटों पर नियुक्ति की गई। जबकि उनको उनके संवर्ग ओबीसी या एससी में ही आरक्षण दिया जाना चाहिए था। तब न्यायमूर्ति सुनीत कुमार याचिका स्वीकार करते हुए सामान्य वर्ग की सीटों पर दी गई नियुक्ति रद्द कर दी तथा क्षैतिज आरक्षण का लाभ संबंधित संवर्ग में ही देने का निर्देश दिया।

    इसी प्रकार से एक्स सर्विस मैन और बीएसएफ अभ्यर्थियों को भी उनके संवर्ग के तहत ही आरक्षण देने का निर्देश दिया। इसके बाद हाईकोर्ट में विशेष अपील दाखिल कर इसे चुनौती दी गई। खंडपीठ ने यह अपील खारिज कर दी मगर एकल पीठ द्वारा आधिकारियों पर की गई टिप्पणी को रद्द कर दिया।

    ANIL SHEKHAWAT – JJN

  8. Ramesh godara says:

    Sir, mere rpsc clerk grade 2 m 55% ban rahe h. M obc se hu. Type call k kya chance h. Written orr final cut off kya rah sakti h. Plzzz tell me sir.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>